The Spring Festival of Colors and Love-Holi होली रंगो का त्योहार

होली का त्योहार दुनिया के कई देशों में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है, नेपाल,फिजी,दक्षिणअफ्रीका व मॉरिशस समेत अनके देश भारत के इस रंगों  के त्योहार को हर उम्र के लोगों के बीच जमकर खेलते है ! भारत के हर राज्यों में खेले जाने वाला यह रंगों का त्योहार सभी राज्यो में अलग-अलग नामों से जाना जाता है जैसे बिहार व पूर्वी उत्तर प्रदेश में फगुआ, हरियाणा में दुलंडी, पश्चिम बंगाल में बसंत उत्सव एवम महाराष्ट्र में रंग पंचमी, आइए जानते हैं होली किन-किन नामों से कहा- कहा खेली जाती है।

फगुआ – बिहार

होली का त्योहार बिहार व पूर्वी उत्तर प्रदेश में फगुआ के नाम से जाना जाता है एवम होली, होलिका दहन के तुरंत बाद से ही खेली जाती है ! होली उत्सव के दौरान लजीज पकवान बनने शुरू हो जाते है तथा बच्चे अपनी-अपनी टोली बनाकर एक-दूसरे को अबीर या गुलाल लगाते हुए होली खेलते है.

रंग पंचमी – महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में होली का त्योहार आमतौर पर रंग पंचमी के नाम जाना जाता है तथा यह त्योहार होली के पांच दिन बाद मनाया जाता है, इसलिए इसे रंग पंचमी कहा जाता है! महाराष्ट्र में होली का त्योहार रंगों के अलावा जमकर नाच, गाना और आमोद-प्रमोद करते हुए मानते है. रंग पंचमी मध्य प्रदेश में भी मनाया जाता है !

बसंत उत्सव – पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल में इस त्योहार को बसंत उत्सव के नाम से जाना जाता है, इस दौरान वे न सिर्फ रंग से बल्कि नाच, गाने के साथ नई ऋतु का स्वागत करते हैं। पश्चिम बंगाल में होली को एक अन्य नाम ढोल पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है एवम भगवान श्री कृष्ण व राधा की मूर्ति रखकर होली खेली जाती है !

कुमौनी होली – उत्तराखंड

उत्तराखंड में इस त्योहार को होली के नाम से जाना जाता है परंतु कुमौनी लोगो का होली खेलने का तरीका बहुत ही लोकप्रिय एवम अनोखा है, बसंत पंचमी से ही यहाँ होली खेलना शुरू हो जाता है तथा पूरे एक महीने तक यह खेल चलता रहता है!

लठमार होली – उत्तर प्रदेश

सर्वाधिक लोकप्रिय होलियों में से एक है लठमार होली, मथुरा के बरसाना में खेली जाने वाली लठमार होली में महिलाएं इस दिन पुरुषों को लाठियों से मारती हैं, होली के दौरान भांग एक अभिन्न पेय है, जिसे पी कर लोग होली का उत्सव मनाते है !

0 0 vote
Article Rating

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x